1 सकारात्मक जीवन जीने के लिए नकारात्मक सोच का त्याग करना जरूरी है, इसीलिए हमेशा जीवन को देखने के अपने नजरिए में बदलाव करें।
2 जो समय बीत गया है उसे सोचकर अपना आज खराब ना करें और ना ही भविष्य को लेकर चिंता करें। हमेशा अपना जीवन वर्तमान में जिए।
3 हर सवेरे उठते ही यह सोचे कि आपके साथ आज सब कुछ अच्छा ही होगा। कभी भी यह ना सोचे कि आज का दिन खराब होगा। हमेशा सकारात्मक सोच के साथ अपने दिन की शुरुआत करें।
4 कभी भी अपनी तुलना दूसरों से ना करें। खुद की कमियों को स्वीकार करते हुए अपने जीवन में आगे बढ़े।
5 चुनौतियां आखिर किसके जीवन में नहीं आती। लेकिन वही अपने जीवन में सफल हो पाता है जिसे चुनौतियों का डटकर सामना करना आता है।
6 जीवन में कोई भी फैसला कितना ही मामूली क्यों ना हो हमेशा फैसला लेने से पहले कम से कम 100 बार सोच विचार जरूर करें। क्योंकि जल्दबाजी में लिए गए फैसले हमेशा गलत साबित हुए हैं।
7 दूसरा व्यक्ति किस चीज में कमजोर है या उसके अंदर क्या कमियां है यह ढूंढने से अच्छा है आप अपने खुद की कमियों को दूर करने का प्रयास करें।
8 आपका मस्तिष्क ही सकारात्मक या नकारात्मक सोच पैदा करता है इसीलिए इस मस्तिष्क के स्वास्थ्य को बनाए रखना जरूरी है। तभी आपके जीवन में सकारात्मक सोच का संचार हो सकेगा।
9 हमेशा अपने चेहरे पर मुस्कुराहट बनाए रखें क्योंकि लोगों को मायूस चेहरों की अपेक्षा मुस्कुराते चेहरे पसंद है तथा हमेशा खुश रहने की कोशिश करते रहे।
10 अंतर्मुखी बने रहने की अपेक्षा दूसरों से मेल मिलाप करें। अपने दोस्तों परिजनों से अपनी परेशानियों को बांटे।
पूरा आर्टिकल पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें - जीवन में कैसे लाएं सकारात्मकता